पेट्रोल डीजल को लेकर क्षेत्र में हाहाकार की स्थिति

1 से 2 घंटे तक डीजल और पेट्रोल के लिए करना पड़ रहा है पेट्रोल पंप पर इंतजार

बैतूल। नगर पालिका परिषद सारनी के क्षेत्र में ४ पेट्रोल पंप है जिसमें सारनी में एक और बगडोना में तीन पेट्रोल पंप संचालित हो रहे हैं जिसमें से एक एचपी के पुराने पेट्रोल पंप का आपसी विवाद होने की वजह से यह पेट्रोल पंप बंद हो गया है।रिलायंस पेट्रोल दूसरे पेट्रोल से लगभग सात रुपये लीटर महंगा होने के कारण उपभोक्ता रिलायंस का पेट्रोल नहीं उपयोग कर रहे है।जबकि इंडियन ऑयल के दूसरे पेट्रोल पंप से उपभोक्ताओं के वाहनों में डीजल पेट्रोल के साथ पानी निकलने के कारण उपभोक्ता यहां का पेट्रोल भराना पसंद नहीं कर रहा है।ऐसी स्थिति में पाढरा पंचायत में संचालित होने वाले एचपी के पेट्रोल पंप पर उपभोक्ताओं की लंबी कतार लगी रहती है।रविवार सुबह १० बजे के लगभग पाढरा के एचपी पेट्रोल पंप पर दो सौ से अधिक उपभोक्ता डीजल और पेट्रोल के लिए लंबी कतार लगाकर खड़े हो गए थे है।बताया जाता है कि यहां पर दूसरे पेट्रोल पंप से पेट्रोल का मूल्य कम है और पेट्रोल डीजल की शुद्धता भी कंपनी के अनुरूप है।जिसकी वजह से ग्रामीण क्षेत्र के अलावा शहरी क्षेत्र के लोग एचपी के पेट्रोल पंप पर एकत्रित होकर पेट्रोल डीजल लेना पसंद कर रहे हैं।जबकि पेट्रोल और डीजल से जुड़े संचालकों को कहना है कि ८ जुलाई के बाद डीजल और पेट्रोल को लेकर संपूर्ण क्षेत्र में त्राहिमाम उत्पन्न हो सकता है।जबकि वर्तमान समय में खरीफ की फसल की बुवाई का कार्य शुरू हो गया है।ऐसे में ग्रामीण क्षेत्र के कृषि का कार्य करने वाले किसान २५ से ५० लीटर की कुपी लेकर पेट्रोल पंप के सामने अपने पारी का इंतजार करने नजर आ रहे हैं।ऐसी स्थिति को देखते हुए क्षेत्र में पेट्रोल की खपत और पेट्रोल पंप की डिमांड बढ़ती दिखाई दे रही है।
सूखाढाना के पेट्रोल पंप संचालक पर हो कार्रवाई सुखाढाना पंचायत के अंतर्गत पेट्रोल पंप खोलने का कार्य संचालक के माध्यम से किया गया है लेकिन इस पेट्रोल पंपों पर हमेशा पेट्रोल और डीजल का अभाव बना रहता है एक महीने में २८ दिन इस पेट्रोल पंप की मशीन खराब होने का बोर्ड लगा कर उपभोक्ताओं को खासी परेशानी पहुंचाने का काम पेट्रोल पंप संचालक के माध्यम से किया जाता है।जिसकी वजह से उपभोक्ताओं को खासी परेशानी का सामना करना पड़ता है यदि ऐसे पेट्रोल पंप पर जब पेट्रोल और डीजल की व्यवस्था नहीं है तो पेट्रोलियम कंपनी के माध्यम से इस पेट्रोल पंप का लाइसेंस निरस्त कर देना चाहिए सूत्रों का कहना है कि यह सुखाढाना के पेट्रोल पंप का संचालन भोपाल में रहते  है।इस व्यक्ति के माध्यम से यहां के लिए आवंटित पेट्रोल और डीजल को दूसरे स्थान पर ले जाकर बेचने का गोरखधंधा लंबे समय से संचालित किया जा रहा है।ऐसी स्थिति में उठाना ग्राम पंचायत में संचालित होने वाले पेट्रोल पंप के लाइसेंस निरस्त किया जाना चाहिए इसको लेकर पंचायत के कुछ लोगों के माध्यम से ऑयल कंपनी के आररो रिटेल सेंटर को लिखित शिकायत करके इस के लाइसेंस को निरस्त करने की मांग की गई है।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.