सस्पेंड मोर्शी रेंजर भीमा मंडलोई पर वन अधिनियम के तहत दर्ज किया जाए अपराध

लंबे समय से अवैध तरीके से कारपेंटर को बेची जा रही थी बेशकीमती सागौन

बैतूल।  Crime should be registered against suspended Morshi Ranger Bhima Mandloi under Forest Act मोर्शी रेंज में पदस्थ रेंजर भीमा मंडलोई के खिलाफ बेशकीमती सागौन तस्करी करने के गंभीर आरोप लगाए गए हैं। शिकायतकर्ता संजय पिता लक्ष्मण शलके, नरेंद्र पिता पांडुरंग सोनागोते निवासी ग्राम पाला तहसील मोर्शी जिला अमरावती ने मुख्य वन संरक्षक वन वृत्त बैतूल (सामान्य) को इस मामले की शिकायत की है।
भीमा मण्डलोई रेंजर के पद पर आठनेर मोर्शी रेंज में पदस्थ है। इनके खिलाफ अवैध तरीके से सागौन की लकड़ी विक्रय करने का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है। उक्त वीडियो फुटेज के आधार पर रेंजर को नौकरी से सस्पेंड किया गया है, लेकिन विभाग द्वारा किसी भी प्रकार की प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज नहीं की गई है। शिकायतकर्ता के यह भी आरोप है कि रेंजर लंबे समय से किसी कारपेंटर को अवैध रूप से लकड़ी बेच रहा है। रेंजर भीमा भण्डलोई के के खिलाफ पूर्व में भी ग्रामीणों से ट्रैक्टर जब्त कर अवैध वसूली के आरोप लगे है। जिन ग्रामीणो के ट्रेक्टर में एक हजार रुपये से कम के वनोपज जप्त हुए है, रेंजर द्वारा उन्हें भी अवैध तरीके से जप्त कर राशि की मांग की गई है।
यह है प्रावधान
वनाधिकार अधिनियम में प्रावधान है कि वनोपज का मूल्य एक हजार रुपये से कम होने पर वाहन को राजसात नही किया जा सकता, लेकिन फिर भी विधि विरुद्ध जाकर अनावेदक भीमा मण्डलोई ने अपने पद का दुरुपयोग करते हुए ग्रामीणों से रुपये मांगे और दूसरी बार पद पर बने रहते हुए सागौन का अवैध तरीके से विक्रय किया गया। शिकायतकर्ताओं ने मांग की है कि अनावेदक भीमा मण्डलोई के विरुद्ध प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज कर कार्रवाई की जाए। शिकायतकर्ता ने रेंजर भीमा मंडलोई और कारपेंटर की कॉल डिटेल निकाले जाने की मांग की है।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.