betul news: सहायक शिक्षक ने तहसीलदार की सांठगांठ से शासकीय भूमि पर किया कब्जा

चोपना क्षेत्र के ग्रामीणों ने सहायक आयुक्त जनजातिय विभाग से की शिकायत,कार्रवाई की मांग

betul news: बैतूल। शासकीय प्राथमिक शाला सालीवाड़ा में सहायक शिक्षक के पद पर पदस्थ दिलीप मंडल के खिलाफ चोपना क्षेत्र के ग्रामीणों ने घास मद की शासकीय भूमि पर कब्जा करने का आरोप लगाया है। इसकी शिकायत ग्रामीण शुभंकर राय, निप्पद विश्वास ने सहायक आयुक्त से की है। शिकायतकर्ता का आरोप है कि शिक्षक ने तत्कालीन तहसीलदार से साठगांठ कर कुछ फर्जी प्रमाण पत्र के माध्यम से ख.नं. 119 रकबा 0.118 शासकीय घास मद की भूमि पर दिलीप मंडल द्वारा अवैध कब्जा कर लिया है।

शिकायतकर्ता शुभंकर ने बताया कि वह ख.नं. 118/1 रकबा 1.505हे. मौजा चोपना की भूमि का स्वामी है। आवेदक की भूमि से लगी ख.नं. 119 रकबा 0.118 शासकीय घास मद की भूमि है। अनावेदक दिलीप मंडल ग्राम चोपना -2 का निवासी है। वह शासकीय प्राथमिक शाला सालीवाड़ा में सहायक शिक्षक के पद पर पदस्थ है। दिलीप मण्डल को पूर्व में पुर्नवास के दौरान शासन ने लघु व्यवसायी के रूप में प्लाट तथा व्यवसाय हेतु ऋण दिया था।

उक्त प्लाट अनावेदक ने विक्रय कर दिया है। दिलीप मण्डल को आमला तह. आमला में बसाया गया था उसे ग्राम चोपना में पुर्नवास के दौरान नहीं बसाया गया तथा अनावेदक का नाम चोपना के बसाये गये परिवारों की सूची में भी नहीं है। ख.नं. 119 रकबा 0.118 हे. मौजा चोपना की भूमि वर्ष 2000 के पहले शासकीय भूमि होकर शासकीय घास के मद मे दर्ज है। इस खसरा नंबर 119 की भूमि मे से रकबा 0.118 मौजा चोपना पर दिलीप मण्डल ने अपने पिता विराट मण्डल के नाम नामान्तरण अवैध रूप से करा लिया।

शिकायतकर्ता का आरोप है कि इसमें नायब तहसीलदार घोड़ाडोगरी की भी साठ गाठ है क्योंकि किसी भी शासकीय भूमि पर नाम दर्ज तथा किसी खसरे का बटांकन संबंधी कार्यवाही कलेक्टर महोदय की अनुमति के बिना नहीं की जा सकती है। शिकायतकर्ता ने इस मामले में दिलीप मंडल के खिलाफ उचित कार्यवाही करते हुए शासकीय भूमि को कब्जा मुक्त करने का आग्रह किया है।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.