साढ़े 3 लाख के बकरा-बकरी लेकर फरार हुए खंडवा के राहू और इरफान

पीड़ित पशुपालकों ने एकता परिषद के नेतृत्व में कलेक्टर से लगाई गुहार, बकरा बकरी खरीददार से राशि दिलाने की मांग

Betul Mirror News/बैतूल। भैंसदेही ब्लाक के अंतर्गत आने वाले ग्राम गुलरढाना, धामनया, चौहटा के लगभग 19 पशुपालकों के साथ खंडवा के एक गिरोह ने बकरा बकरी खरीदने के नाम पर साढ़े 3 लाख की ठगी कर ली है। ठगी का शिकार हुए पशुपालकों ने एकता परिषद के नेतृत्व में कलेक्टर को ज्ञापन सौंपकर उचित कार्यवाही करने का आग्रह किया है। ग्रामीणों का आरोप है कि जिला खंडवा निवासी राहू पिता सत्तार एवं इरफान पिता सलाम ने गुलरढाना, धामनया, चौहटा के 19 बकरा बकरी पालकों से 43 बकरा बकरी खरीदने का सौदा 3 फरवरी 2023 को किया था।

सौदे के वक्त राहू और इरफान ने ग्रामीणों को 500- 500 रुपए देकर शेष राशि बाद में देने का विश्वास जताया था। ग्रामीणों ने राहू और इरफान पर विश्वास करके उन्हें बकरा बकरी बेच दिए, लेकिन इन ग्रामीणों को आज तक बकरा बकरी की बकाया राशि नहीं मिल पाई है, ऐसी स्थिति में ग्रामीण राशि पाने के लिए परेशान हो रहे हैं। ग्रामीण श्यामराव कास्देकर, सेवाराम इवने, चवलसिंह उईके ने बताया कि 43 बकरों का सौदा 10 से 12000 कीमत में किया गया था। राहू और इरफान को फोन लगाने पर वह फोन रिसीव नहीं करते हैं।

इसकी शिकायत उन्होंने पूर्व में झल्लार थाने में भी की थी, लेकिन आज तक कार्यवाही नहीं होने के चलते ठगों के हौसले बुलंद है। ग्रामीणों ने पुलिस अधीक्षक से आग्रह किया है कि आवेदकों के विरुद्ध कार्यवाही कर उन्हें बकरा बकरी का भुगतान दिलवाया जाए। गुलरढाना निवासी श्यामराव, जग्गू, बिरजा, काशीराम, गुना, शैलेश, सज्जू, कमल सिंह, धामनया निवासी सेवाराम, टंतू, चवल सिंह, चौहटा निवासी बल्लू, दलसु, सद्दू, डाडू, जीरगा, मालजी, प्यारेलाल, मुन्ना द्वारा बकरा बकरी बेचे गए हैं, इन्हें 44 बकरा बकरियों का लगभग साढ़े 3 लाख का भुगतान नहीं मिल पाया है।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.